All Rights

Published on Nov 8, 17 |     Story by |     Total Views : 67 views

Pin It

Home » Daily_News, National, Politics » विपक्षी दलों का काला दिवस : नोटबंदी की बरसी

विपक्षी दलों का काला दिवस : नोटबंदी की बरसी

केंद्र सरकार की आर्थिक व नीतिगत फैसले पर विपक्ष ने लामबंदी तेज कर दी है। इस कड़ी में आठ नवंबर को पूरे राज्य में तमाम विपक्षी दल गोलबंद होंगे। नोटबंदी की बरसी को काला दिवस के तौर पर मनाने का एलान किया गया है। झामुमो की केंद्रीय समिति ने तमाम जिला कमेटियों को विरोध प्रदर्शन करने का निर्देश दिया है। पार्टी महासचिव विनोद कुमार पांडेय ने बताया कि यह भाजपा के खिलाफ आंदोलन का आगाज है।

कांग्रेस के तमाम दिग्गज भी इस आंदोलन के दौरान मौजूद रहेंगे। राजधानी रांची समेत तमाम जिला मुख्यालयों पर वरीय नेताओं की मौजूदगी में कार्यक्रम होगा। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह स्वयं इन कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत ने बताया कि दिन में पार्टी के कार्यकर्ता राजभवन के समक्ष प्रदर्शन करेंगे। शाम में पार्टी कैंडल मार्च निकालेगी। उन्होंने नोटबंदी को आर्थिक भ्रष्टाचार बताया।

राजद ने जीएसटी और नोटबंदी को जनविरोधी करार देते हुए बुधवार को पूरे प्रदेश में काला दिवस मनाने का फैसला लिया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी ने राजद के सभी पूर्व विधायकों तथा पदाधिकारियों को अपने-अपने जिले में प्रस्तावित कार्यक्रमों का नेतृत्व करने को कहा है।

प्रदेश प्रवक्ता डा. मनोज कुमार के अनुसार इस दिन राजद कार्यकर्ता जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगे तथा इस मौके पर आयोजित सभाओं के माध्यम से नोटबंदी और जीएसटी के कारण लोगों को हो रही परेशानियों से अवगत कराएंगे। इधर, झाविमो के केंद्रीय मीडिया प्रभारी तौहिद आलम के अनुसार राजद के इस कार्यक्रम को झाविमो का समर्थन है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top