All Rights

Published on Jun 18, 17 |     Story by |     Total Views :

Pin It

Home » Magazine Issues, Politics » जनता को अच्छी लाइफस्टाइल देना मेरा मकसद : भावना मलिक, भाजपा पार्षद, मयूर विहार

जनता को अच्छी लाइफस्टाइल देना मेरा मकसद : भावना मलिक, भाजपा पार्षद, मयूर विहार

bhawna mallickप्रश्न : सबसे पहले आपको बहुत-बहुत बधाई.  आपके क्षेत्र की प्रमुख समस्याएं क्या है?

जवाब : धन्यवाद, बहुत अच्छा महसूस कर रही हूँ, ये एक अलग तरह का फील्ड है, जहां में पहले काम कर रही थी. वो शिक्षा का छेत्र था और दायरा बच्चे और पेरेंट्स थे, पर ये दायरा काफी बड़ा है जिसमे बड़ी संख्या में आबादी भी ज्यादा है और समस्याएं भी, जो की मूलभूत समस्याएं हैं इंसान की वो मुझे देखनी है। जब हम पार्षद के पद पर होते हैं, तब हमसे उम्मीद की जाती है. एरिया साफ सुथरा हो, स्कूल में अच्छी एजुकेशन दी जा रही हो, एरिया में जो लाइट्स की प्रॉब्लम है वो न हो ताकि डार्क एरिया में जो क्राइम होते हैं, वो न हो और इस समय नालिओं की समस्या भी बहुत ज्यादा परेशानी का कारण बनी हुई है। क्योंकि जो नालियां है वो पीडब्लूडी के सीवर्स में हैं क्योंकि उसमे बैरियर्स, नेट वगेहर नहीं लगे हुए हैं, तो सारी चीजें सीवर्स में जाती है और एक समस्या जो में बहुत ज्यादा महसूस कर रही हूँ वो है कवर्ड नालियां, कवर्ड नालियों का इम्पैक्ट यहां के लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि क्यों लगाई गयी हैं. इसलिए लगाई गयी थी ताकि वो ढकी रहे और देखने में बुरा न लगे पर लोगों को उसका कांसेप्ट समझ नहीं आया और लोगों ने उसको कवर कर दिया और लोगों ने अपने घर के बराबर में भी कवर कर दिया है बैठने के लिए। अब वो सफाई बिल्कुल नहीं हो पा रही है जिससे क्या हो रहा है मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया के वायरस पनपने की संभावना है वो मेरे लिए सबसे ज्यादा चिंता का विषय है. चाहती यह हूं कि ये सारी परेशानियों से निजात जल्दी ही मिल जाये।

इन सब परेशानियों के लिए मुझे जल्द से जल्द immediate action लेना होगा। जो भी बेस्ट कर सकती हूँ वो करुँगी, सारे डिपार्टमेंट्स में जैसे मैंने ये कि किया कि दिल्ली सरकार के लोगों को भी इसमें शामिल किया क्योंकि उनका मकसद और हमारा मकसद एक ही है दिल्ली की जनता को अच्छी लाइफस्टाइल देना और उनको ये बात समझ भी आयी तो उनको भी साथ लेकर चल रही हूँ ताकि सभी परेशानियों का निपटारा जल्दी हो सके. ये मेरा “Possitive Attitude” है मेरे लोगों के लिए।

प्रश्न : क्षेत्र के विकास के लिए क्या योजनाएं है?

जवाब : मैं इस वार्ड को एक अलग वार्ड बनाना चाहती हूँ. मेरे कहने का मतलब है प्लान तो ये है पेपर रीसाइक्लिंग और वाटर हार्वेस्टिंग। पानी की समस्या अब शुरू हुई हैं यहाँ पहले नहीं थी तो क्यों नहीं मै एक एडुकेटेड लेडी हूँ तो पानी की समस्या का समाधान भी करुँगी. वाटर हार्वेस्टिंग और पेपर रीसाइक्लिंग का काम जरूर शुरू करुँगी जहा भी जगह मिलेगी ये चीज मैं सबसे पहले करूंगी. चाहे मुझे किसी हृत्रह्र के जरिये करना पड़े पर मैं करुँगी .

प्रश्न : विकास के लिए आपकी क्या प्राथमिकता है?

जवाब : सबसे पहले लोगों को अवेयर कराना बहुत जरूरी है क्योंकि आप कितना भी मेहनत करे अगर लोग अवेयर नहीं हैं  तो हमारी सारी मेहनत बर्बाद हो जाएगी. इसलिए लोगों को भी अवेयर करना है कि अगर आपको हमसे और अच्छी सेवाएं लेनी है तो  “ह्लद्धद्ग4 द्धड्ड1द्ग ह्लश द्धद्गद्यश्च ह्वह्य शह्वह्ल ” हेल्प करना मतलब जैसे हमारी कूड़े की गाडिय़ां आती हैं डिप्पेर्स आते हैं तो कूड़ा उसमें डालना चाहिए न कि बाहर कोनों में फैक देते हैं. जैसे हमारे मयूर विहार में जैसे ही गाड़ी आती है लोग अपनी कूड़े की पन्नी उसमें फैक देते हैं. ऐसा ही सबको करना है. ये हमे लोगों को बताना होगा क्योंकि मैंने देखा हैं गावों में छोटे एरिया में लोग कोनों में कूड़ा डाल देते हैं. पता नहीं क्यों। तो आज भी मैं जब राउंड पे गयी तो मैंने वहां के आसपास के लोगों को बोला कि उन्हें बोलो कि जब गाड़ी आ रही है तो पांच मिनट इंतजार कर लो और उसमे डालो ताकि आपका एरिया अच्छा लगे। कूड़ा पड़ा हुआ है उसपर मक्खियां भिनकना बहुत गन्दा लगता हैं, जो मैं देख ही नहीं सकती.

प्रश्न : जैसा कि सुनने में आ रहा है कि दिल्ली सरकार सहयोग नहीं कर रही हैं तो इस पर आप क्या कहना चाहेंगे ?

जवाब : देखिये मैंने तो अपने रिश्ते बनाएं हुए है जब मैं जीत कर आयी तो सिसोदिया जी ने एक बहुत बड़ा सा बूके भेजा और बधाई दी और कहा कि जो भी मदद चाहिए होगी मैं दूंगा. एक तो ये उनका भी एरिया है। तो मुझे पूरा सहयोग मिल रहा है. सारे काम मिलजुल के कर रहे हैं। एक दो बातों के लिए नहीं कह सकती. हो सकता है उनकी प्रिऑरिटीज होंगी बाकि मेरी काफी कुछ बातें देर सवेर पूरी हो रही हैं।

प्रश्न : लोगों को साफ पानी मिले, इसके लिए आप क्या करेंगे?

जवाब : हमने अपने सांसद जी से इस बारे में बात की थी और उन्होंने कहा था कि हम जितने भी पार्षद हैं वो सारे ये प्रॉब्लम स्नड्डष्द्ग कर रहे हैं तो हम सब एक ष्टशद्वड्ढद्बठ्ठद्गस्र क्रद्गह्नह्वद्गह्यह्ल लेकर रुत्र के पास जायेंगे क्योंकि ये प्रॉब्लम दिल्ली सरकार के अंडर आती है और ये बहुत जरुरी मुद्दा है तो इसमें विलम्ब नहीं किया जा सकता।

प्रश्न : क्षेत्र की जनता के नाम क्या सन्देश देना चाहेंगे?

जवाब : मैं बस यही जनता से कहना चाहूंगी कि  “I am a dedicated person Give me you Co-operation and i will do best for them”

-रूचि यादव

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top